प्रश्नोत्तर : दिये जल उठे

Prashnottar : Diye Jal Uthe

बोध-प्रश्न

1. किस कारण से प्रेरित हो स्थानीय कलेक्टर ने पटेल को गिरफ़्तार करने का आदेश दिया?

2. जज को पटेल की सजा के लिए आठ लाइन के फैंसले को लिखने में डेढ़ घंटा क्यों लगा? स्पष्ट करें।

3. ‘‘मैं चलता हूँ। अब आपकी बारी है।’’ - यहाँ पटेल के कथन का आशय उद्धृत पाठ के संदर्भ में स्पष्ट कीजिए।

4. “ इनसे आप लोग त्याग और हिम्मत सीखें ” - गांधीजी ने यह किसके लिए और किस संदर्भ में कहा?

5. पाठ द्वारा यह कैसे सिद्ध होता है कि -  ‘ कैसी भी कठिन परिस्थिति हो उसका सामना तात्कालिक सूझबूझ और आपसी मेलजोल से किया जा सकता है।अपने शब्दों में लिखिए।

6. महिसागर नदी के दोनों किनारों पर कैसा दृश्य उपस्थित था? अपने शब्दों में वर्णन कीजिए।

7. “ यह धर्मयात्रा है। चलकर पूरी करूँगा।” - गांधीजी के इस कथन द्वारा उनके किस चारित्रिक गुण का परिचय प्राप्त होता है?

8. गांधी को समझने वाले वरिष्ठ अधिकारी इस बात से सहमत नहीं थे कि गांधी कोई काम अचानक और चुपके से करेंगे। फिर भी उन्होंने किस डर से और क्या एहतियाती कदम उठाए?

9. गांधीजी के पार उतरने पर भी लोग नदी तट पर क्यों खड़े रहे?

*********

कोई टिप्पणी नहीं: