Right click unusable

वर्ण-विच्छेद

वर्ण-विच्छेद यानी वर्ण का विच्छेद। शब्द का प्रत्येक वर्ण किस व्यंजन और स्वर से मिलकर बना है उन्हें क्रमानुसार बताना ही वर्ण-विच्छेद है।

उदाहरणतः

क्रम :-  क् र्  म् 
आशीर्वाद :-  आ श्  र् व्  द् 
प्रार्थना :-  प् र्  र् थ्  न्
दुष्ट :-  द्  ष् ट् 
सूर्य :-  स् + ऊ र् य् 
तिथि :-  त्  थ् 
पृथक :-  प्  थ्  क् 
उत्तीर्ण :-  उ त् त्  र् ण् 
कृष्ण :-  क्  ष् ण् 

गणेश : -  ग्  ण्  + श् 




ध्यान में रखने योग्य बातें -

 1.  वर्ण-विच्छेद करते समय संयुक्ताक्षर होने पर उसके दोनों अक्षर अलग-अलग करने होंगे।

उदाहरणतः  -

विद्यालय 
व्  द् य्  ल्  य् 

2.   अनुस्वार की जगह पंचमवर्ण का प्रयोग करना होगा।

उदाहरणतः  -

संबंघ का वर्ण-विच्छेद करने पर अनुस्वार की जगह पंचम-वर्ण का प्रयोग होगा-
स्  म् ब् न् ध् 

(यहाँ अनुस्वार जिस वर्ण (म्  और न् ) के लिए प्रयुक्त हुआ है वह लिखा गया है।

3.   ‘’ स्वर-रहित होने पर अर्थात् र्’ होने पर शिरोरेखा पर लिखा जाता है। वर्ण-विच्छेद करने पर वह र्’ ही लिखा जाएगा।

उदाहरणतः  -

कर्म:- क्  र् म् 


-----------

6 टिप्‍पणियां:

amit pandey ने कहा…

dhanwaad sir aapka kadil marg darshan ki liye vanchet chaataro ko liye aapaur koti koti naaman

harbans singh ने कहा…

अध्यापिका का वर्र्ण विच्छेद

Rajesh Manhas ने कहा…

thankuu ji

www.hindiCBSE.com ने कहा…

अ+ध्+य्+आ+प्+इ+क्+आ

Meenakshy ने कहा…

Varna vichched ke niyam batane ke liye dhanyavad.
hum log ek aisi stithi mai hai jiska hamare paas uttar nahi hai, aasha karti hu ki aap isme sahayata kar payenge.

anuswar aur maatra, jaise shabd hai sinhah (Sanskrit for Sher), iska varna vichched kaise karenge?
baki shabd jaise hans (swan), sanskrit aadi shabdon ka vichched asani se ho jata hai.

Awaiting for a response. Thank you in advance.

hindiCBSE ने कहा…

आप सभी सिंह शब्द को अंग्रेज़ी में SINGH (सिंघ या सिंग) के रूप में ही लिख रहे हैं| SINH भी उच्चारण में सिंह ही है| सिंह से बने नरसिंह शब्द का द्रविड़ भाषाओं में उच्चारण नरसिम्ह या नरसिम्हा के रूप में होता है | विद्वानों के अनुसार ऋग्वैदीय उच्चारण शैली और यजुर्वैदीय उच्चारणशैली ने सिंह को सिंग बना दिया । विद्वानों के अनुसार यजुर्वेदीय शैली में सिंह शब्द में ह ध्वनि पर अधिक दबाव नहीं रहा, किन्तु सिं के साथ आये अनुस्वार पर बल दिया जाना आज भी चलन में है |

इसलिए आपका प्रश्न बहुत प्रासंगिक है।

सि अं ह इन्हें बोलकर देखें ।

स् + इ + न् + ह् + अ (चलन में है, इसलिए इसका प्रयोग अधिक देखने में आता है)

सिंह – स् + इं + ह् + अ (चलन में नहीं है, पर सही है)

स्+ इं (इ+अं) + ह् + अ (कई इस प्रकार से भी लिखते हैं)

आप ध्यान रखें कि वर्ण-विच्छेद संबंधी जानकारी उच्चारण को सही करने की दृष्टि से बहुत महत्त्व पूर्ण है। कक्षा 9 में सी बी एस ई शिक्षार्थियों के स्तर को ध्यान में रखकर ही प्रश्न पूछता है।