Right click unusable

वाक्य और वाक्य संश्लेषण

वाक्य

सुनने के लिए प्ले पर क्लिक करें > 


परिभाषाः- वाक्य अंग्रेजी में  SENTENCE कहा जाता है। व्याकरण के नियमों के अनुसार रचित सार्थक शब्दों का समूह वाक्य कहा जाता है।

ध्यान में रखने की बात: -
1. हिन्दी व्याकरण के नियमों के अनुसार क्रिया (VERB) का प्रयोग वाक्य के अंत में होता है। यह वाक्य के समापन (समाप्त) होने को बताती है।
 जैसे : वह फुटबॉल  खेल रहा है।

ऊपर दिए गए वाक्य में

वह - काम को करने वाला कर्ता यानि  SUBJECT है।
फुटबॉल - कर्म यानि  OBJECT है।
खेल रहा है -  क्रिया यानि VERB  है। इससे वाक्य समाप्त हो रहा है।

अंग्रेजी भाषा में इस वाक्य की रचना करने पर वाक्य इस प्रकार होगा।

He is playing football.

He- Subject
is playing – Verb
football – Object

अंग्रेजी भाषा के उपरोक्त वाक्य में कर्ता के बाद ही क्रिया का प्रयोग हो रहा है और वाक्य का समापन (समाप्त) कर्म से हो रहा है।
अतः हिन्दी भाषा में वाक्य के अंत में क्रिया का प्रयोग होता है इस बात को ध्यान में रखना चाहिए।

2. किसी वाक्य के दो हिस्से होते हैं -
  पहला :- वाक्य जिसके बारे में हो। इसे उद्देश्य ; SUBJECT कहते हैं।
  दूसरा :- उद्देश्य के बारे में जो कुछ भी कहा जाए। इसे विधेय PREDICATE कहते हैं।

उदाहरण -  वीर राम ने दुष्ट रावण को मारा ।

यहाँ

वीर राम ने -   उद्देश्य है
दुष्ट रावण को मारा - विधेय है।

रचना के आधार पर वाक्य 3 प्रकार के होते हैं -

1.  सरल या साधारण वाक्य (Simple Sentence) :-
  
             जिसमें एक उद्देश्य और एक विधेय हो और क्रिया पद (शब्द) भी एक हो
         
        उदाहरण: वीर राम ने दुष्ट रावण को मारा ।
                मेरे पुरखों ने धरती का रुप सँवारा ।

2.   संयुक्त वाक्य (Compound Sentence):- 
           जिसमें दो सरल वाक्य किसी योजक (और, एवं, परन्तु, लेकिन, तथा, अथवा, किन्तु, मगर, बल्कि, नहीं तो, अन्यथा, परिणामस्वरूप, ताकि, या, पर, क्योंकि, तो, नहीं तो, इसलिए, अतः आदि शब्द जो जोड़ने का कार्य करते हों) से जुड़े हों।
        
      उदाहरण: तुम मेरे घर आए थे लेकिन मैं घर पर नहीं था ।           

                 ( सरल वाक्य +  योजक +  सरल वाक्य )
           
        लोगों ने चोर को पकड़ लिया और उसे लाठियों से पीटने लगे।


(विशेष - योजक चिह्नों को हटाने पर दो स्वतन्त्र  वाक्य बन जाते हैं । )


3.  मिश्र या मिश्रित वाक्य(Complex Sentence):-
            इसमें दो उपवाक्य होते हैं । एक प्रधान उपवाक्य होता  है, एक आश्रित उपवाक्य। आश्रित उपवाक्य प्रधान उपवाक्य पर निर्भर होता है। अपने आप में दोनों अधूरे लगते हैं । आश्रित उपवाक्य से पहले जो, जिसने, जब , जितना  जैसे ही आदि शब्दों का प्रयोग होता है अर्थात् आश्रित उप-वाक्य वह हुआ जिसके पहले कि, जो, जिसने, जब, जितना, जहाँ, वहाँ, यद्यपि  जैसे शब्द का प्रयोग हो।                

उदाहरण:  जो काली गाय है, वह खेत में चर रही है। 
 (यहाँ जो काली गाय है’  आश्रित उपवाक्य है और वह खेत में चर रही हैप्रधान उपवाक्य है।)
        
               जो सोता है सो खोता है।    
     (यहाँ जो सोता है’  आश्रित उपवाक्य है और सो खोता हैप्रधान उपवाक्य है।)


वाक्य संश्लेषण

  कई वाक्यों को मिलाकर एक वाक्य बनाना संश्लेषण कहलाता है। उदाहरणतः यहाँ नीचे  दो सरल वाक्य दिए गए हैं। इनका सरल वाक्य, संयुक्त वाक्य और मिश्र वाक्य क्या होगायह बताया गया है -
अध्यापक कक्षा में आए । (सरल वाक्य)
सब छात्र खड़े हो गए ।(सरल वाक्य)

संश्लेषण करने पर:
   
सरल वाक्य :  अध्यापक के आते ही सब छात्र खड़े हो गए ।

संयुक्त वाक्य: अध्यापक कक्षा में आए और सब छात्र खड़े हो गए।
                
मिश्रित वाक्य: जैसे ही अध्यापक कक्षा में आए, सब छात्र खड़े हो गए ।


--------------------------------------------------------------------

2 टिप्‍पणियां:

Kulbir Singh ने कहा…

आप लोगों का बहुत-बहुत धन्यवाद ऐसी जानकारी उपलब्ध करवाने के लिए क्या बच्चों को पढ़ाने में काफी मददगार है

Devender Kumar ने कहा…

Thanking you so much for the important knowledge.
Once more Thanks.